Sunday, November 17, 2019

How dose search Engine work in Hindi and English for your website for Digital marketing -(सर्च इंजन कैसे कार्य करता है )

In digital hacks, we have launched a series - "Virtual Life Impact on Our Life". Today's topic in this series is - How search Engine work in Hindi and English for your website for Digital marketing.

डिजिटल हैक्स  में हमने एक सीरीज- "वर्चुअल लाइफ इम्पैक्ट ऑन अवर लाइफ"  की शुरुवात की है। इस सीरीज में हमारा आज का टॉपिक है - सर्च इंजन कैसे काम करता है। 

We use the net to digitalis our business in a digital world. They also share their business details on social media. And also make a website or blog related to your business. Then take the help of search engine to reach your blog and website. But do you know how these search engines work and how their procedure works, when we put any information related to our business as soon as we put it on the website or blog. Information immediately reaches anywhere in the world. Then people can also see and read it as well as share it with others.

एक डिजिटल वर्ल्ड में अपने बिज़नेस को डिजिटल करने के लिए हम नेट का प्रयोग करते हैं। अपने बिज़नेस डिटेल्स को सोशल मीडिया पे भी शेयर करते हैं। और साथ में अपने बिज़नेस से रिलेटेड एक वेबसाइट या ब्लॉग भी बनाते है।  फिर अपने ब्लॉग और वेबसाइट  को लोगों तक पहुंचाने के लिए सर्च इंजन की हेल्प लेते हैं।  पर क्या तुम ये  जानते हैं,  की ये सर्च इंजन कैसे वर्क करते हैं और इनकी कार्यविधि कैसी होती है, कि जब हम अपने बिज़नेस से जुडी कोई भी सूचना जैसे ही वेबसाइट या ब्लॉग पे डालते हैं। सूचना तुरंत ही पुरे विश्व में एक पल में कही भी पहुँच जाती है। फिर लोग उसे  देख भी सकते हैं और पढ़ भी सकते हैं साथ ही साथ उसे औरों के साथ शेयर भी कर सकते हैं। 

In the previous post, we understood what is a search engine? Full information was given on this and also talked in detail about the 5 top search engines.
If you have not read that post and want to read it, then by clicking on the link below, you can read both these posts and get information about what a search engine is.



पिछली पोस्ट में हमने समझा  था कि सर्च इंजन क्या है ? इसपे पूरी जानकारी दी थी और साथ ही में ५ टॉप सर्च इंजन के बारे में विस्तार से बात की थी। 
गर आप ने वो पोस्ट नही पढ़ी है और पढना चाहते हैं तो निचे दिए लिंक पे क्लिक कर के मेरी ये दोनों पोस्ट पढ़ सकते हैं और सर्च इंजन क्या है के बारे प जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। 

पोस्ट लिंक्स- सर्च इंजन क्या है ?

Let's talk in detail on today's topic.
Let us understand how the search engine works in a very simple language.
How does the search engine work?
The search engine is a software program that searches the information you need (keywords) from the content on the net, such as text, video, audio, picture, etc., which you want to search, on the web (worldwide web). , All the web sites related to it are visible with the complete list on the web page result.

चलिए अब आज के टॉपिक पे विस्तार से बात करते हैं। 
आइये बहुत ही सरल भाषा में हम समझते हैं की सर्च इंजन कैसे काम करता है।  
सर्च  इंजन कैसे कार्य करता है ?

सर्च इंजन एक सॉफ्टवेयर प्रोग्राम है। जो  नेट पे मौजूद कंटेंट जैसे की - टेक्स्ट , वीडियो, ऑडियो , पिक्चर आदि से आप की जरूरत की सूचना( कीवर्ड्स) को, जिसे आप सर्च करना चाहते हैं, उसे WWW ( वर्ल्डवाइड वेब ) पे  खोज कर, उससे जुडी सभी वेब साईट को वेब पेज रिजल्ट पे पूरी लिस्ट के साथ दिखता है।  

For this, the search engine operates the following commands -
  1. Web crawling
  2. Indexing
  3. Searching



इसके लिए सर्च इंजन निम्नलिखित आदेशो को संचालित करता है-
  1. वेब क्रावलिंग
  2. इंडेक्सिंग
  3. सर्चिंग

Web crawling: -

Now we talk about what is web crawling? Web crawling is a search process in which the search engine scans all the web sites that are present on the net, whether new or old, and related to your keyword or keyword phase (the information you want to search). All the websites show the search page with its link on the result.

The search engine resorts to robots for the crawling process. This robot is also called spider and crawler. The job of the spider is to scan the website and collect its contents and details of all its pages. Spiders search for the content of any website through its link.

वेब क्रावलिंग:-

अब हम बात करते हैं कि वेब क्राव्लिंग क्या है ? वेब क्रावलिंग एक खोज प्रक्रिया है इसमें  सर्च इंजन सभी वेब साईट को जो  नेट पे मौजूद होती हैं चाहे वो नयी हो या पुरानी, उनको स्कैन करता है और आप के कीवर्ड  या कीवर्ड फेज ( जिस सूचना को आप सर्च करना चाहते हैं ), से जुडी सभी वेबसाइट को उसके लिंक के साथ सर्च पेज रिजल्ट पे शो कर देता है।


सर्च इंजन क्रावलिंग प्रकिया के लिए रोबोट का सहारा लेता है। इस रोबोट को स्पाइडर और क्रावलर भी कहते हैं। स्पाइडर का काम होता है की वो वेबसाइट को स्कैन करके उसके कंटेंट और उसके सभी पेज की डिटेल्स को एकत्रित करे । स्पाइडर किसी भी वेबसाइट के कंटेंट को उसके लिंक के माध्यम से खोजते हैं।

Spider (robot) work -

The job of a spider is to find out about all the websites, what the website is about and what data it holds. For this, the spider (robot) scans the website's page titles, URL, URL-image and its keywords and collects all the information related to it.
If a webpage has many web links associated with it, then it scans them. In this way, they go to all the links and scan them and get all the information related to that website. This process is called automated boot. Spider keeps booting from one web page to another web page with automated boot. Thus, he scans millions of webpages in a second.
For example - Google which is the most used search engine in the world. The Google crawler can scan thousands of webpages in a second. 

स्पाइडर ( रोबोट) का कार्य -

स्पाइडर का काम होता है की वो सभी वेबसाइट के बारे में पता लगाये की वो वेबसाइट किस बारे में है और कैसा डाटा रखती है। इसके लिए स्पाइडर (रोबोट ) वेबसाइट  के पेज टाइटल्स , यूआरएल , यूआरएल- इमेज और उसके कीवर्ड्स  को स्कैन करता है और उससे जुडी सारी सुचना एकत्रित करता है। 
गर एक वेबपेज पे उससे जुड़े कई वेब लिंक्स होते है तो उनपे जाके उनको भी स्कैन करता है। इस प्रकार वो सभी लिंक्स पे जा के उनको स्कैन कर के सारी जानकारी उस वेबसाइट से रिलेटेड जुटाता है। यह प्रक्रिया ऑटोमेटेड बूट कहलाती है। स्पाइडर ऑटोमेटेड बूट से एक वेब पेज से दुसरे वेब पेज तक पहुच कर उसको स्कैन करता रहता है। इसप्रकार वो एक सेकंड में लाखोँ वेबपेज को स्कैन करता है। 

उदाहरण के लिए- गूगल जो की दुनिया का सबसे ज्यादा उपयोग में लाया जाने वाला सर्च इंजन है। गूगल क्राव्लर एक सेकंड में हजारों वेबपेज को स्कैन कर सकता है। 

Search Engine Indexing: -


The process of indexing begins after crawling. Information collected through crawling, also called data, is stored sequentially in a data base. This process is called search engine indexing.

सर्च इंजन इंडेक्सिंग:-


इंडेक्सिंग की प्रक्रिया क्राव्लिंग के बाद शुरू होती है। क्राव्लिंग के माध्यम से एकत्रित सूचना जिसे डाटा भी कहा जाता है, को एक डाटा बेस में क्रमवार संग्रहित किया जाता है। इस प्रक्रिया को सर्च इंजन इंडेक्सिंग कहा जाता है। 

Search Engine Ranking: -

Search engine ranking is the final stage of search engines. In this step the search engine works on the query (keywords, keyword phase) written by us in the search box. The search engine then puts before us the exact information collected through crawling and indexing.So that we can get the correct and appropriate information related to our query. All these information are shown sequentially on the "Search Engine Results Page".

The information shown at the top of the search engine results page is the most appropriate answer to the query you searched.

सर्च इंजन रैंकिंग :- 

सर्च इंजन रैंकिंग सर्च इंजन का अंतिम चरण है। इस चरण में सर्च इंजन हमारे दवारा सर्च बॉक्स में लिखी गयी क्वेरी ( कीवर्ड्स , कीवर्ड फेज़ )पर कार्य करता है। फिर सर्च इंजन, क्राव्लिंग और इंडेक्सिंग के माध्यम से जुटायी गयी सटीक जानकारी को हमारे सामने रखता है। जिससे हमें अपनी क्वेरी (सवाल) से जुडी सही और उचित जानकारी प्राप्त हो सके। ये सारी सूचना" सर्च इंजन रिजल्ट पेज " पे क्रमवार शो होती हैं। सर्च इंजन रिजल्ट पेज पे जो सुचना सबसे ऊपर दिखायी जाती है वो आप के द्वारा सर्च की गयी क्वेरी का सबसे उचित उत्तर होता है। 

The web page ranked at number one in the list shows on the "search engine result page" is better than the other web page, it depends on the ranking algorithm of the search engine.

Notes - We will talk about the ranking algorithm in details in our next upcoming post.

"सर्च इंजन रिजल्ट पेज " पे जो लिस्ट शो होती है उसमे पहले नंबर पे रैंक किया वेब पेज दुसरे वेब पेज से बेहतर है ये सर्च इंजन के रैंकिंग अलगोरिथम  पे निर्भर करता है। 

नोट्स- रैंकिंग अल्गोरिथम  के बारे में डिटेल्स में हम अपनी अगली आने वाली पोस्ट में बात करेंगे। 

 Related post:

11 Best 5G Mobiles Launched in India in 2019-20,- Digital Mobile -Gadgets World

डिजिटल मार्केटि क्या है.

what is search engine- सर्चइंजन क्या है ?


My other blog -

Pratham Prayaas- first steps towards growth on  motivational story and blogging tips:

 

No comments:

Post a Comment

Slimming Massage Belt for woman and man - amazon on Digital hacks

https://amzn.to/2PoSgHI Jsb Hf59 Slimming Massage Belt With Heat For Women And Men Pictures Product Features - Slimming...